Capri Global Capital Ltd Complaint – Miss Beheviar With Costmer

Subject: miss beheviar with costmer
My Name: satyanarayan bhavarlal somani
My City: ankleshwar
My State: GUJARAT
My Complaint Against: Capri Global Capital Ltd
Complaint Category: Finance & Investment
My Complaint Description:
नमस्कार
में सत्यनारायण भवरलाल सोमानी
बहुत दुखी दिल से आपको बताना चाहता हु की मुज पर हो रहे अत्याचार को बताना चाहता हु अगर देश का कानून ऐसे अत्याचार को नहीं रोक सकता तो मुझे आजाद देश का सुरसित नागरिक बोलना मेरे लिए सरम की बात होगी.
हर गलती की सजा देने का अधिकार सिर्फ देश के कानून को हे ये बात में मनता हु पर जब लोग अपने आपको कानून मन कर आम और कमजोर इंसान पर अत्याचार करे तो मदद किसके सामने मांगी जाये
मेने कुछ साल पहले बैंक से लोन लेके एक छोटा बिज़नेस सुरु किया और मेरा बिज़नेस अच्छे से चलने लगा पर अचानक कुछ कारन वस् मेरे बिज़नेस में बहुत बड़ा नुकसान हो गया और मुझे मेरे बिज़नेस से हाथ धोना पड़ा इस दौरान मेरे लिए हुए बैंक के कुछ लोन के EMI भरने में फ़ैल रहा फिर भी मेने बहुत कोसिस के बाद जितना मुझसे हुआ उतना मेने भरने की कोसिस की और साथ साथ ये कोसिस भी की मेरा बिज़नेस फिर से किसी तरह स्टार्ट हो जाये पर ऐसा करने में फ़ैल हो रहा हु क्यों की बैंक के रेकवरी एजेंट्स अपने कमीशन की लालच में बुरी तरह व्यव्हार करने लगे और ख़राब सब्दो के मार से मुझे और मेरी फॅमिली को मानसिक तरस देने लगे हे उनको मेने बहुत बिनती की मेरा बिज़नेस थोड़ा सा सेट हो जाये तो में आपके EMI टाइम से भर दूंगा और लोन भी चूका दूंगा पर बैंक रेकवरी एजेंट्स अपने कमीशन की लालच में होने की वजसे परेशान करना नहीं छोड़ते और मेरे बेटे हरीश सोमानी और जयेश सोमानी के साथ गली गलोच और धमकी के साथ बात करते हे और डरते हे और वो जहा काम करने जाते हे वह भी जेक उनको डरते हे की चोरी करो या कुछ भी करो पर पैसा भरो वार्ना उनको उठा ले जायेंगे या मुझे उठा लेंगे इस तरह की धमकी से डरते हे और ये सदमा मेरा छोटा बैठा हरीश सोमानी सहन नहीं कर पाया और उनके मानसिक तरस के चलते ता:१०/०१/२०१९ के दिन कुछ दवाई का सेवन कर किया भगवन की मरहबानी से उसे वक़्त रहते बचा लिया गया .
पर उनके सामने क़ानूनी करवाई करने वाला कोई आगे नहीं आ रहा उन बैंक कमीशन एजेंट्स की आगे तक पहचान होने का ढोस बताकर डरा देते हे और कहते हे की हम उनका कुछ नै बिगड़ सकते या कोई उनके सामने खड़ा नहीं होगा.
संजोग वस् मुझे बिज़नेस में नुकसान हुआ फिभी में पैसा भरना चाहता हु पर इस नुकसान से बहार निकलने के लिए थोड़ा वक़्त माँगा फिर भी उनकी दादागिरी कम नहीं हो रही हमने पुलिस में भी कंप्लेंट दर्ज करवा दी पर कोई रास्ता निकलता हुआ नजर नै आ रहा क्यों की इन कमीशन एजेंट्स को किसी कानून का दर नहीं हे. अगर ऐसा चलता रहा तो भारत देश का आम और कमजोर आदमी को देश में जीने का कोई हक़ नहीं हे अगर ऐसा कोई नुकसान हो तो आम इंसान जिसकी कोई पहचान या ऊपर की पॉच नहीं हो तो उसके पास सिर्फ २ रस्ते हे १) अपने परिवार को लेके कही भाग जाये या फिर २) अपने परिवार के साथ आत्महत्या कर ले.
बड़ी आसा और उम्मीद के साथ आपको ये लिखा हे की इन गुंडों से कुछ रहत मिले या इनके खिलाफ कोई ठोस कदम उठाये जाये वार्ना देश में आम इंसान कानून या देश की सर्कार पर से भरोसा उठ जायेगा
अगर कोई बैंक लोन नै भरता तो कानून की मदद से और सब की सहमति हे कोई रास्ता निकल सकते हे फिर भी लोन नै भरता तो कानून उसे उसकी गलती सजा भी देता हे तो क्या बैंक वाले इस तरह की गलती करते हे तो क्या बैंक को उसकी गलती की सजा नै मिलनी चाहिए. आपको बिनती हे की इसपर ध्यान दे और देश के ऐसे बेबस लाखो परिवार को बचाये
धन्यवाद

Share and inform others about this:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*